विशेष संवादाता – रवि लिटौरिया
जिले में बेहतर स्वास्थ्य सेवायें प्रदान करें – कलेक्टर श्री जादौन
कलेक्टर द्वारा स्वास्थ्य विभाग योजनााओं की समीक्षा की
1860 सहारिया परिवारों को तीन माह की एक-एक हजार रूपये की राशि देने के निर्देश –

दतिया कलेक्टर श्री आरपीएस जादौन द्वारा स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान निर्देश दिए कि स्वास्थ्य सेवाओं में बेहतर प्रबंधन कर सुधार लाए। उन्होंने कहा कि अस्पताल में 341 प्रकार की दवायें मौजूद है। किसी भी मरीज को बाजार से दवा खरीदने की जरूरत न पड़े। समीक्षा के दौरान डाॅ. प्रदीप उपाध्याय, डाॅ. पीके शर्मा, बीएमओ इन्दरगढ़ डाॅ. परिहार, जीएमओ उनाव डाॅ. उनैया, डाॅ. हेमंत गौतम, बीएमओ भाण्ड़ेर डाॅ. परिहार, डाॅ. केसी राठौर, डाॅ. केएम वरूण, डाॅ. विशाल वर्मा, टीकाकरण अधिकारी डाॅ. डीके सोनी व अन्य चिकित्सकगण व कर्मचारी उपस्थित रहे।
डाॅ. प्रदीप उपाध्याय ने बताया कि जिले में 9 से 15 आयु वर्ग के 2 लाख 55 हजार बच्चों को मीजल्स व रूबेला का टीकाकरण होना है। जिसके लिए सभी तैयारियां कर ली गई है।
एनआरसी पर चर्चा के दौरान कलेक्टर ने निर्देश दिए कि यह सुनिश्चत करें कि सभी पोषण पुर्नवास केन्द्र भरे रहे। जिले में निःशुल्क मच्छरदानी का वितरण होना है। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि जनप्रतिनिधियों के माध्यम से मच्छरदानियों का वितरण कराये।
बैठक में बताया गया कि बाल हृदय उपचार योजना लागू है जिसमें बच्चों के गंभीर बीमारियों के निःशुल्क इलाज कराये जाते है। जिला कटे-फटे होठों से मुक्त हो गया है। 47 बच्चों को कृत्रिम अंग दिया जाना है।
बैठक में आयुष्मान भारत योजना पर चर्चा के दौरान बताया गया कि वर्ष 2011 की सर्वे सूची के हिसाब से 55 हजार व्यक्ति चिन्हित है। लोक सेवा केन्द्र में 30 रूपये जमा कर गोल्डन कार्ड बनवाया जा सकता है। इस कार्ड से 5 हजार रूपये तक का ईलाज निःशुल्क होगा। कलेक्टर द्वारा निर्देश दिए कि 55 हजार व्यक्तियों को सूचित किया जाये ताकि वह अपना कार्ड बनवा सकें। बैठक के दौरान जननी सुरक्षा योजना में अच्छा कार्य करने के लिए इन्दरगढ़ बीएमओ की प्रशंसा की गई।
कलेक्टर द्वारा आदिम जाति कल्याण योजनाओं की समीक्षा की 1860 सहारिया परिवारों को तीन माह की एक-एक हजार रूपये की राशि देने के निर्देश दिए